Tata Motors Shares: डीमर्जर की खबर से शेयर ₹1,000 के पार, अब खरीदें या बेचें?

Tata Motors Share Price: आज कल टाटा मोटर्स के शेयर की कीमत अपने एक नए लेवल पर पहुंच चुका है और 1000 रूपये के स्तर को पार कर लिया है। कम्पनी के शेयर्स ने 5 मार्च 2024 को लगभग 7% की तेजी दिखाई और इसी के साथ 1,065.60 रुपये के अपने नए 52-वीक हाई को टच किया। इसीके साथ कंपनी ने अपने पैसेंजर और कमर्शियल व्हीकल बिजनेस को दो अगल-अलग कंपनियों में बांटने का निर्णय लिया है।

Tata Motors Shares: डीमर्जर की खबर से शेयर ₹1,000 के पार, अब खरीदें या बेचें?
Tata Motors Shares: डीमर्जर की खबर से शेयर ₹1,000 के पार, अब खरीदें या बेचें?


Tata Motors Share Price: आज कल टाटा मोटर्स के शेयर की कीमत अपने एक नए लेवल पर पहुंच चुका है और 1000 रूपये के स्तर को पार कर लिया है। कम्पनी के शेयर्स ने 5 मार्च 2024 को लगभग 7% की तेजी दिखाई और इसी के साथ 1,065.60 रुपये के अपने नए 52-वीक हाई को टच किया। इसीके साथ कंपनी ने अपने पैसेंजर और कमर्शियल व्हीकल बिजनेस को दो अगल-अलग कंपनियों में बांटने का निर्णय लिया है।

Tata Motors Share Price Rise: वैश्विक स्तर की ऑटोमोबाइल निर्माता कम्पनी टाटा मोटर्स के शेयरों में 5 मार्च के शुरुआती कारोबार में 8% की बढ़ोतरी देखने को मिली और इसी के साथ शेयरों के भाव 1000 रुपये के स्तर को पार करते हुए 1065.60 रुपये प्रति शेयर तक पहुंच गए।

टाटा मोटर्स के शेयर प्राइस में यह रिकॉर्ड बढ़ोतरी का कारण है की कंपनी अपने कॉमर्शियल और पैसेंजर्स वेहिकल सेगमेंट को दो अलग-अलग लिस्टेड संस्थाओं में विभाजित करने के स्ट्रैटेजिक फैसला किया है। इस फैसले के वजह से निवेशकों ने इसे पॉजटिव लिया और यह अपने 52-हफ्ते के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया। इस फैसले का मकसद डेवलपमेंट को प्रभावी ढंग से एग्जिक्यूट करना और कंपनी की क्षमता को बढ़ाना है।

4 मार्च 2024 को, कंपनी ने टाटा मोटर्स के लिए एक डिमर्जर प्रस्ताव को मंजूरी दिया, इसके बाद इसे दो अलग-अलग लिस्टेड संस्थाओं में विभाजित कर दिया गया। जहाँ इसके पहले सेगमेंट में कॉमर्शियल वेहिकल्स बिजनेस और उससे जुड़े निवेश शामिल होंगे वहीं दूसरे सेगमेंट में पैसेंजर वेहिकल शामिल होंगे, जिसमें PV, EV, JLR और उनके संबंधित निवेश शामिल होंगे।

आपको बता दें कि, पिछले कुछ सालों में, टाटा मोटर्स के कॉमर्शियल वेहिकल (CV), यात्री वाहन (PV+EV), और जगुआर लैंड रोवर (JLR) सेगमेंट ने मल्टीपल रणनीतियों को सफलतापूर्वक लागू करके एक बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

डिमर्जर को NCLT व्यवस्था योजना के माध्यम से लागू होगा, और टाटा मोटर्स के जितने भी शेयरधारक हैं उनके पास दोनों लिस्टेड संस्थाओं में समान शेयरधारिता बनी रहेगी।

असाधारण तेजी दिखी

बीते साल में जगुआर और लैंड रोवर (JLR) के साथ-साथ कॉमर्शियल वेहिकल बिजनस में पॉजटिव ग्रोथ के साथ कम्पनी लगातार आगे बढ़ रही है और कम्पनी के शेयर लगातार ऊपर उठते जा रहे हैं। कम्पनी ने फाइनेंशियल वर्ष 2023 के तीसरे तीसरी तिमाही में नेट प्रॉफिट कमाया है जबकि लगातार सात तिमाहियों से कंपनी को घाटा लग रहा था। यही वजह है कि इसके स्टॉक मूल्य में तेजी देखने को मिल रही है।

डिस्क्लेमर: ऊपर दिया हुआ ये आर्टिकल सिर्फ सामान्य जानकारी के लिए है, lallantops.कॉम किसी भी स्टॉक या निवेश का परामर्शन हीं देता है।