Kundali Bhagya 12 March 2024: राजवीर और शौर्य में हुयी हाथापाई

Kundali Bhagya 12 March 2024: शौर्य राजवीर को देख गुस्से में आ जाता है और उसे ताना मारता है। राजवीर शौर्य को डांटता है लेकिन शौर्य कहता है कि करण उसे बचाने के लिए वहां नहीं है। राजवीर शौर्य से कहता है कि उसे अपनी सुरक्षा के लिए करण की जरूरत नहीं है।

Kundali Bhagya 12 March 2024: राजवीर और शौर्य में हुयी हाथापाई
Kundali Bhagya 12 March 2024: राजवीर और शौर्य में हुयी हाथापाई


Kundali Bhagya 12 March 2024 Written Update On LallanTops.com

Kundali Bhagya 12 March 2024: एपिसोड की शुरुआत में करण दादी जी को बिस्तर पर बैठने में उनकी मदद करता है। इसके बाद प्रीता से पूछता है कि, क्या राजवीर चला गया? उसके जवाब में प्रीता अपना सिर हिलाती है। प्रीता कहती है कि राजवीर नहीं चाहता कि वह काम करे और वह उसे अपने साथ घर ले जाना चाहता है। यह सुनकर दादी कन्फ्यूज हो जाती है। फिर दादी प्रीता से पूछती है कि, राजवीर ने ऐसा क्यों कहा? तभी करण दादी से इस मामले को छोड़ने के लिए कहता है। करण प्रीता से कहता है की आप दादी के लिए दूध ले आओ। तभी प्रीता वहां से चली जाती है। दादी करण से पूछती है कि, वह उनसे क्या बात छिपा रहा है। इसके लिए करण दादी से झूठ बोलता है कि, राजवीर और प्रीता दोनों एक ही कालोनी में रहते हैं और राजवीर प्रीता को मासी कहता है। इतने में प्रीता दादी के लिए दूध लेकर लौटती है। वह दादी को दवाई देती है इसके बाद करण प्रीता को गेस्ट रूम में ले जाता है।

दलजीत घर का दरवाजा खोलती है और घर में पालकी को ढूढ़ती है फिर बताती है कि पालकी घर में नहीं है। तभी शनाया कहती है कि, राजवीर की मासी बहुत अच्छी चाय बनाती है लेकिन वह अभी लूथरा हाउस में है। शौर्य, शनाया से पूछता है कि राजवीर की मासी उसके घर पर क्या कर रही है। दलजीत उसे बताती है कि राजवीर की मौसी उसकी दादी की फिजियोथेरेपिस्ट है। इसके बाद शौर्य वहां से चला जाता है। शौर्य राजवीर को देख गुस्से में आ जाता है और उसे ताना मारता है। राजवीर शौर्य को डांटता है लेकिन शौर्य कहता है कि करण उसे बचाने के लिए वहां नहीं है। राजवीर शौर्य से कहता है कि उसे अपनी सुरक्षा के लिए करण की जरूरत नहीं है।

शौर्य कहता है कि राजवीर एक अच्छा कर्मचारी नहीं है। राजवीर कहता है कि शौर्य को छेड़खानी करने के अतिरिक्त और कुछ नहीं आता। शौर्य राजवीर से कहता है की उनके लिए बाद वाले काम को न भूले। फिर वह कहता है कि, राजवीर की मासी भी उसके लिए काम करती है इसलिए वह नौकर है। इसे राजवीर को गुस्सा आ गया और उसने शौर्य को वहीं पीट दिया। राजवीर शौर्य को उसकी मासी के बारे में कोई भी बात न करने की चेतावनी देता है। फिर शौर्य ने राजवीर को पीटा। तभी पालकी राजवीर को वहां से ले जाती है। इसके साथ ही शनाया और दलजीत शौर्य को वहां से ले जाते हैं।

करण प्रीता से कहता है कि उसे भूख लगी होगी। तब प्रीता कहती है कि वह इस समय किसी को भी परेशान नहीं करना चाहती। करण प्रीता से कहता है कि, वह उसके लिए खाना बना सकता है। लेकिन प्रीता कहती है कि इसकी कोई जरूरत नहीं है। वहीं दूसरी तरफ निधि उनकी बातचीत सुनती है और अंदर ही अंदर जलने लगती है।

राजवीर पालकी से कहता है कि, वह उसे वहां से क्यों ले आई। राजवीर उससे कहता है कि शौर्य प्रीता को नौकर कहकर बुलाता है। पालकी उससे कहती है कि वह जानती है कि शौर्य गलत है लेकिन शौर्य है ही ऐसा। पालकी कहती है कि तुम्हारी मां और शौर्य की मां दोनों एक ही हैं। वह इस बात को अच्छी तरह जानती हैं कि किसी को भी मां का अपमान नहीं करना चाहिए। वह उससे कहता है कि लूथरा परिवार में उसके और प्रीता के लिए कोई नहीं है। फिर वह उससे कहता है कि कुछ समय के लिए उसे अकेला छोड़ दे। इधर शनाया शौर्य की चोट का इलाज करती है। तब शौर्य कहता है कि वह एकदम ठीक है और यह सिर्फ हलकी सी चोट है। शनाया उसे हर छोटी-छोटी बात पर गुस्सा न करने का सलाह देती है।

आरोही निधि से पूछती है कि वह इतना परेशान क्यों है। तब निधि उसे सब कुछ विस्तार से बताती है। यह सुनते ही आरोही एकदम से चौंक जाती है। वह कहती है कि, अंततः प्रीता लूथरा हाउस पहुंच ही गई। निधि कहती है कि, प्रीता उससे शौर्य को कभी नहीं छीन सकती। तभी आरोही निधि से करण को जिताने के लिए कहती है।

उधर गेस्ट रूम में करण प्रीता से पूछता है कि, क्या उसे दिमाग पर प्रेशर महसूस हो रहा है? तब प्रीता करण से पूछती है कि, ऐसा अचानक क्यों होगा? और वह हंसने लगती है।